Director's Message

Home Director's Message

Director's Message

मानव जीवन की तीन मूलभूत आवश्यकतायें होती हैं रोटी, कपड़ा और मकान। इनमें से प्रथम दो आवश्यकताओं की :- पूर्ति तो सामान्यतः व्यक्ति कर लेता है, लेकिन रहने हेतु सही मकान का चयन बहुत कठिन कार्य है। अपना घर होना हर आदमी का सपना होता है। घर से उसकी भावनाऐं जुड़ी होती हैं, अतः जो भी संस्थाऐं गृह निर्माण के पुण्य कार्य से जुड़ी हुई हैं, चाहे वे शासकीय हों या प्रायवेट, उनमें से उपयुक्त संस्था का चयन करना व्यक्ति के लिए अति महत्वपूर्ण हो जाता है, क्योंकि उसके सपनों के घर को निर्मित करने की जिम्मेदारी उसके द्वारा चयनित संस्था की ही है।

बंधुओ, यह भी एक दुःखद सत्य है कि कतिपय निर्माण संस्थाओं द्वारा अपने कर्तव्यों का पूर्ण रूप से निर्वहन नहीं किया गया, जिसके फलस्वरूप समस्त भवन निर्माण संस्थाओं की प्रतिष्ठा पर प्रश्नचिन्ह लग गया। क्या इन सब अव्यवस्थाओं की जिम्मेदारी केवल निर्माण संस्थाओं की ही है। संभवतः क्रेता द्वारा आवास चयन करने के पूर्व यदि निर्माण संस्था की पूर्व प्रतिष्ठा, कार्य की गुणवत्ता इत्यादि का ध्यान रखा गया होता तो ऐसी दुःखद स्थितियां निर्मित नहीं होंती अर्थात क्रेता को भीं जागरुक होने की आवश्यकता है।

हमारी संस्था ‘‘मेसर्स द्रौपदी कंस्ट्रक्शंस’’ विगत 20 वर्षों से खजूरी कला क्षेत्र में आवासीय भवनों का निर्माण कर रही है। संस्था द्वारा वर्तमान तक क्षेत्र में लगभग 1000 मकानों का निर्माण पूर्ण किया जा चुका है, पुनः उक्त प्रोजैक्ट के माध्यम से हम एक और व्यवस्थित आवासीय परियोजना का निर्माण प्रारंभ करने जा रहे है। हमारी वास्तविक ताकत हमारे द्वारा निर्मित मकानों के सभी ग्राहक (रहवासी) ही हैं और हमें यह विश्वास है कि पूर्व की तरह इस बार भी हम आपने ग्राहको का विश्वास प्राप्त कर आवासीय परियोजना को समय पर पूर्ण करेगे।


Mr. Ajay Sharma
Director's Draupadi Construction